मंगलवार, 15 फ़रवरी 2011

"कौन हैं अमिताभ बच्चन और कौन शाहरुख़ ख़ान...???"

हेलेन रा
हेलेन रा उस शख्सियत क़ा नाम है जो स्कॉट्लैंड थिएटर और आर्ट्स में 'हेलेन ऑफ ट्रॉय' का रुतबा रखती हैं. स्कॉट्लैंड में 'रा टेलेंट प्रोडक्शन' नाम से उनकी एक्टर ट्रेनिंग एंड प्रोडक्शन कंपनी है. हेलेन की जल्द ही रिलीज़ होनेवाली फ़िल्म है- इंट्रोगेटिंग विवियन.' अभी हाल में उनके साथ एक्टिंग, हॉलीवुड, बॉलीवुड और औरत-मर्द रिलेशन क़े मसले पर हुई ख़ास बातचीत क़ा सार पेश कर रहे हैं लन्दन से हमारे मित्र - फ्रेंक हुज़ूर.  

स्कॉट्लैंड का मशहूर शहर एडिनबरा पूरी दुनिया में थियेटर, आर्ट्स और फ़िल्म के कार्निवाल के लिए जाना जाता है. हेलेन रा उस शख्सियत क़ा नाम है जो स्कॉट्लैंड थिएटर और आर्ट्स में 'हेलेन ऑफ ट्रॉय' का रुतबा रखती हैं. उनसे गुज़िस्ता दो सालों से मेरी बातचीत ईमेल, फ़ेसबुक और फ़ोन से जो शुरू होती है. उसका एख्तेताम लंदन के सिनेमा डिस्ट्रिक्ट वेस्ट एंड के लिसेस्टर स्क्वेयर में हुआ.

हेलेन को एक्टर एक्सपो में ब्रिटेन के उन युवा दिलों से मिलने आई हैं जो अदाकारी में जेम्स बोंड और केट विंसलेट जैसा मुकाम हासिल करने की ख्वाहिश रखते हैं.

हेलेन ने एडिनबरा से चलते ही ऑल बार वन  पब पर मिलने की ख़्वाहिश ज़ाहिर की थी, जो डेट ओडियन सिनेमा के ठीक उत्तर में है. यह वही ओडियन सिनेमा है जिसमें हॉलीवुड की फिल्मों के प्रिमियर में क़रीब 1600 दर्शक लुत्फ़ उठाने के लिए जमा होते हैं.

ऑल बार वन पब के ठीक सामने सड़क क़े किनारे हेलेन ने मुस्कुराकर मुझे गले से लगाया और मेरा एस्तेक्बाल किया. यह वही लिसेस्टर स्क्वेयर है जिसे जनवरी 1979 में ब्रिटेन के ट्रेड युनियन के स्ट्राइक ने फेस्टर स्क्वेयर में तब्दील कर दिया था। तब पूरे इलाक़े में गार्बेज़ डंप करके मज़दूर अपना वेतन न बढ़ने का मुज़ाहिरा कर रहे थे.

जेम्स कॉलाघन उस वक्त लेबर पार्टी के वज़ीर-ए-आजम थे और तीसरी बार लेबर पार्टी की हुकूमत बनाने के करीब होकर भी उनको मार्गरेट थैचेर से शर्मसार होना पड़ा था. उसी 1979 की सर्दी को ब्रिटेन में 'विंटर ऑफ डिस्कोथेक' कहा जाता है, जिसने मार्गरेट थैचर दिया था.

हेलेन ने मुझे वेस्ट एंड की नशीली समां से धीरे-धीरे वाकिफ़ करने का आगाज़ किया. वेस्ट एंड लन्दन का एंटरटेन्मेंट डिस्ट्रिक्ट माना जाता है. और चूंकि यह लंदन के दिल के ठीक वेस्ट में स्थित है, इस चलते इस जगह को वेस्ट एंड कहा जाता हैं. पास में ही पिच्कादीली सर्कस है, जहाँ ब्रिटिश फ़िल्म अकादेमी बाफ्टा का हेडक्वार्टर है.

हम मशहूर रेड लाइट एरिया सोहो से बहुत ज़्यादा दूर नहीं थे, जहाँ हर मुल्क़ की हसीन लड़कियां और लड़के अपने सेक्स को सेल करते हैं. पेशे से वे सेक्स वर्कर ही हैं जैसे हम दिल्ली क़े जीबी रोड, कोलकाता क़े सोनागाछी और लाहौर के हीरामंडी की गलियों में देखते हैं.

मगर सोहो कहीं से भी हमारे दिल्ली, कोलकाता और मुंबई के रेडलाइट एरिया की बदनाम गलियों  में शुमार नहीं होता. फ़ैशन और ग्लैमर की खुशबन इसकी फिजां में घुली हुईं हैं. फ्रौग लेग और सुर्ख होठों वाली कमसिन और  ख़ूबसूरत हसीनों को रंगबिरंगी पोशाक में चारों तरफ़ घुमते-टहलते देखा जा सकता है.

लेकिन सोहो में कोई भी नज़रे बचाकर या झुकाकर नहीं चलता. इस इलाक़े में आनेवाली या आनेवाला हर शख्स सर उठाके और हाई वोल्टेज कॉन्फिडेंस के साथ लबालब मालूम होता है. सड़क के चारों तरफ़ गुलाबी और ब्लू रोशनियों से लबरेज कैसिनो, बार, क्लब और मसाज़ पार्लर आपकी आँखों में घूर रहे होते हैं.

इन्हीं गलियों में ब्रिटेन और दुनिया के कोने-कोने से आए हरदिल अजीज़ फ़नकारों और सितारों से आपकी मुलाक़ात कभी भी हो सकती है. हेलेन कहती हैं, "लोगबाग सोहो में कॉफी पीने नहीं, हुस्न और जवानी का दीदार करने आते हैं."

शाम के क़रीब पांच बजने वाले हैं. पूरी सड़क जो एम्पयार थियेटर और वेऊ थियेटर को घेरती है और ओडियन तक आती है, उस पर लंदन के पोर्ट्रेट आर्टिस्ट अपने ब्रश और पेंट लेकर जवान लड़के और लड़कियों की पोर्ट्रेट बनाने में मशगूल हैं.

हेलेन कहती हैं, "ये समां उसे बेहद भाता है. ओडियन सिनेमा के डिज़िटल स्क्रीन पर हॉलीवुड की लेटेस्ट रिलीज 'दि फ़ायटर' का पोस्टर  जगमगा रहा है, जिसमें मशहूर बॉक्सर मिकी वार्ड के रोल करनेवाले मार्क वहालबर्ग और उनके सौतेले भाई डिक्की का रोल करनेवाले च्रिस्तियन बेल बैठे हैं. हेलेन ने एक इतालियन वेटर को अपने लिए बियर और मेरे लिए वोदका का फ़रमान पेश किया.

गुफ़्तगू, हेलेन के बचपन की गलियारों से होती हुईं हॉलीवुड की गलियों और लिसेस्टर स्क्वायर तक हिलोरें मारती रहीं. महज़ आठ साल की उम्र से ही हेलेन का स्टेज़ के साथ लव ऑफ़र का आगाज़ हो चला था.

म्युज़िकल कंपनीज़ के साथ अपनी अदाकारी का जलवा बिखरने के साथ-साथ हेलेन 'हाई रोड' और  'ताग्गार्ट' जैसे ब्रिटिश टीवी शोज पर भी आती रही हैं। आजकल वो एडिनबरा में शॉर्ट फिल्म और थियेटर के प्रोडक्शन और कास्टिंग में मशगूल रहती हैं.

हेलेन ने एक्टिंग के ट्रेनिंग लॉस एंजेल्स हॉलीवुड में ली और क्रूज शीपस पर बतौर सिंगर खूब परफॉर्म किया. स्कॉट्लैंड में प्रोमिसिंग एक्टर्स की तलाशी का जिम्मा भी स्कॉट्लैंड के आर्ट्स एंड कल्चर महकमे नें उन्हें दी दे रखा है. एडिनबरा के त्रावर्स थियेटर में हेलेन ने भावी एक्टर्स क़े बीच एक इंक़लाब ला दिया हैं. उनके सभी शोज हाउसफुल होते हैं.

हेलेन रा के साथ फ्रेंक हुज़ूर
हेलेन ने एक अज़ीब सी दास्तान गढ़ डाली, जब उन्होंने एक शानदार डिवोर्स पार्टी देकर अपने अठारह महीने पुराने निकाह और डिवोर्स (तलाक़) का जश्न मनाया. ब्रिटेन के सभी अख़बारों ने उनके इस अनोखे अंदाज़ का जबरदस्त ख़ैर मकदम किया. चुलबुली हंसी और ब्लैक एंड हवाइट दोनों तरह के लतीफ़ों से सराबोर इस शख्सियत के बातचीत का अंदाज़ अनोखा है।

वो कहती हैं, ‘‘जब लड़कियां अपने निकाह का जश्न मनाने को बेचौन होती हैं तो फिर डिवोर्स को मातम क्यों मानती हैं? अगर किसी सिरफिरे साथी से आप अपनी ज़िन्दगी के सफ़र को नहीं नाप सकते तो फिर उससे अलग होकर जश्न का एलान कीजिये.’’ 


मुझे हैरानी नहीं होती, हेलेन के इस पावरफुल फेमिनिस्ट आइडिया से, क्योंकि वो जल्द ही अपना स्टैंड और क्लियर करती हुई कहती है, ‘‘फ्रेंक, लेकिन मैं पुरुषों से नफ़रत नहीं करती हूँ.’’

बॉलीवुड फिल्मों की मार्केट साइज़ हेलेन को हैरान करती है. जब मैंने उनसे पूछा, "क्या आप वाकई बॉलीवुड मसाला फ़िल्मों की मुरीद हैं?" जवाब में हेलेन के गुलाबी गालों पर हंसी का जबरदस्त फुहारा छूट पड़ा और उनकी आँखों में रोशनी झिलमिलाने लगी.

फिर उन्होंने कहा, ‘‘बॉलीवुड सिनेमा में मैं जब हीरो और हिरोइन को बात करते-करते सड़क और दरख्तों के चारों तरफ़ नाचते-गाते देखती हूँ तो कुछ समझ में नहीं आता." आगे वो कहती हैं, "मुझे सॉंग एंड डांस बेहद पसंद हैं. ख़ासकर ड्रामा और परफोर्मिंग आर्ट्स में तो सॉन्ग एंड डांस बेहद सेंट्रल एलेमेन्ट  हैं, मगर हित्च्कोक के सिनेमा और रोल्लिंग स्तोने के म्युजिकल एल्बम में फ़र्क तो है ना?

हॉलीवुड के अपने रोचक लम्हों का ज़िक्र करती हुई हेलेन आगे कहती हैं, ‘‘जवान लड़के-लड़कियों में एक्टिंग जॉब के लिए जुनून होता है। वे किसी भी क़ीमत पर कास्टिंग डायरेक्टर की नज़रों में समाना चाहते हैं।  लेकिन एक एक्टर को अपनी स्ट्रगल के दौर में फ़्री वर्क से परहेज़ कभी नहीं करना चाहिए.’’

अपने एक एक्टर साथी की दास्ताँ सुनाती हुईं हेलेन कहती हैं, ‘‘मेरा एक दोस्त एक फ़िल्म मुफ़्त में कर रहा था. तभी उसने बीबीसी की एक फ़िल्म के लिए ऑडिशन दिया और उसको सेलेक्ट कर लिया गया. बीबीसी उसको पैसे दे रही थी. तभी उसने सोचा कि अगर उसका करार फ़्री फ़िल्म के लिए हैं तो वो बीबीसी वाली  फ़िल्म को कैसे तारीख़ दे सकता है। फिर उसने मुझसे सलाह-मशविरा किया.

मैंने उसे कहा, ‘‘सिर्फ इस वजह से कि तुम्हें फ़्री फ़िल्म से कोई पेमेंट नहीं मिल रही, इसलिए तुम ये काम छोड़ देना चाहते हो? तुम्हें अपने करार को ख़ैर मकदम करना चाहिए.’’ तब उसने बीबीसी फ़िल्म के प्रोड्यूसर से कहा कि इतने वक्त के लिए एक फ़िल्म से उसका करार है. बीबीसी फ़िल्म क़ा प्रोड्यूसर मेरे एक्टर दोस्त के कमिटमेंट से काफी इम्प्रेस्ड हुआ और उसने अपनी तारीख़ आगे कर दी।

एक्टिंग एक्सपो में अगली सुबह जब किंस क्रॉस के कैम्पडेन सेंटर में हाज़िर हुआ तो हेलेन को करीब 200 भावी एक्टर्स को लेक्चर देते देखा. हेलेन कह रही थीं, ‘‘कास्टिंग डायरेक्टर क़े साथ विनम्र और शिष्टाचारी होना चाहिए, और जो एक्टर ऐसा नहीं है, तो उसके फेस में घूंसा मारने में कोई दिक्क़त नहीं है।’’

हेलेन का कहना है कि सिर्फ ख़ूबसूरती एक्टर नहीं बनाती. लुक ज़रूरी है किस लुक में आप ज़्यादा अव्वल लगते हैं. "नोट अबाउट बेंग ओनली ब्युटीफुल.’’

हेलेन की जल्द ही रिलीज़ होनेवाली एक फ़िल्म 'इंट्रोगेटिंग विवियन' में उनके को-स्टार फोर्ब्स केबी से मेरी मुलाक़ात होती है. वो 'बाल्ड हेड' और 'स्किन हेड' के किरदार में काफी मक़बूल रहे हैं. बॉलीवुड की साइज़ पर उनको भी हैरानी होती है. 


मगर उन्हें अफ़सोस है कि बॉलीवुड अपने फॉर्मूला मसाला फ़िल्मों से ज़्यादा कुछ नहीं कर पाया है, और यूरोप में इंडियन और पाकिस्तानी या बंगलादेशी इमिग्रेंट्स के अलावा लोकल ब्रिटिश कम्युनिटी में ज़्यादा असर नहीं छोड़ सका है.’’

हेलेन और फोर्ब्स शिल्पा शेट्टी को जानते हैं. वे ज़्यादातर बॉलीवुड सुपरस्टार को पहचानते तो हैं मगर कॉन्फीडेंस के साथ यह नहीं कह सकते कि कौन अमिताभ बच्चन हैं और कौन शाहरुख खान?

(फ्रेंक हुज़ूर लेखक और स्वतंत्र पत्रकार हैं. लन्दन में रह रहे हैं. सुप्रसिद्ध क्रिकेट खिलाड़ी  इमरान खान  पर लिखी उनकी किताब "इमरान वर्सेस इमरान : द अनटोल्ड स्टोरी" जल्दी ही प्रकाशित होनेवाली है.  उनके साथ frankhuzur@gmail.com  पर संपर्क किया जा सकता है.)

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें